30 Faisla Shayari Quotes and Status in Hindi

30 Faisla Shayari Quotes and Status in Hindi
Faisla Shayari
Faisla Shayari

1- आज फैसला कर लो, या तो महोब्बत कर लो या फासला कर लो।

faisla quotes
faisla quotes in hindi

2- जब इश्क़ की अदालत में मुक़दमा-ऐ-प्यार हुआ, हर उस शक़्स को सजा मिली जिसे सच्चा प्यार हुआ।

faisla status

3- ये ज़िन्दगी है साहब कोई फिल्म तो नहीं हर फैसला आपके हक़ में होगा ज़रूरी तो नहीं।

decision shayari
decision shayari

4- ऐ ज़िन्दगी आज फैसला कर, या तो जीने दे मुझे या फिर मार दे मुझे।

galat faisla shayari
galat faisla shayari

5- ये ज़िन्दगी नहीं ये सबक था मेरे लिए, कुछ मेरे फैसले गलत थे कुछ मेरी क़िस्मत गलत थी मेरे लिए।

6- आज मैंने भी एक फैसला कर लिया है, जो नज़दीकी सांप है कुछ उनसे फासला कर लिया है।

7- ये शायद खुदा का ही हुकुम था, की मैं और तुम कभी हम नहीं हो सके।

8- समझ लो जो समझना है, ना तुम कोई judge ना मैं कोई वकील, ना तुम्हारा कोई फैसला ना मेरी कोई दलील।

9- फैसला जो कुछ भी हो मंजूर होना चाहिए, जंग हो या इश्क हो भरपूर होना चाहिए।

zindagi ka faisla shayari

10- ऊपर वाले के आगे हर नीचे वाला मजबूर होगा, उसका फैसला जो भी होगा मंज़ूर होगा।

11- कौन डूबेगा और किसके हक़ में किनारा होगा, खुदा ये फैसला भी अब तुम्हारा होगा।

12- अब फैसला किया है तो इसे निभा भी लेना, कुछ करने की अब सोची ही है तो कुछ कर के अब दिखा भी देना।

13- ज़िन्दगी तेरे संग आखिर मसला क्या है, ना जीने देती है ना मरने देती है आखिर बता तेरा फैसला क्या है।

14- फैसला कर लिया है अब फिर से मोहोब्बत ना करने का, अब जीने की चाह है अब और मन नहीं किसी पर मरने का।

jana tera faisla tha shayari

15- चले गए वो हमे छोड़ने का फैसला सुना कर, हम उनसे जुड़े रहना चाहते हैं ये जानना उन्होंने ज़रूरी नहीं समझा।

16- ज़िन्दगी की राहों में अक्सर ऐसा होता है, जो फैसला मुश्किल होता है वही सबसे ज्यादा बेहतर होता है।

17- ज़िन्दगी जंग है ये इंसान के ऊपर है इसे कौन कैसा लड़ता है, फैसले इंसान लेता है अंजाम वक्त तय करता है।

18- ऐ ज़िन्दगी कभी तो मेरी सुना कर, ले जाती है मुझे कहीं भी अपना फैसला सुना कर।

19- उसके हक़ में हर मुक़दमे के फैसले होते हैं, बुलंदियों पर जिसके हौंसले होते है।

faisla jo bhi ho manzoor
Faisla Shayari in hindi

20- अब अंजाम जो भी होगा फैसला कर चूका हूँ मैं, ये दिल और ये जान तेरे नाम कर चूका हूँ मैं।

इन्हे भी पढ़े :-

21- ईंट को पत्थर से जवाब दिया करो, फैसले दिल से नहीं दिमाग से लिया करो।

22- फैसला करना आसान नहीं था मेरे लिए, पर शायद अब तेरे पास रहना सही नहीं था मेरे लिए।

23- या तो जीते-जी मोहोब्बत करने का फैसला मत करना, या फिर करना तो मरते दम तक मोहोब्बत करना।

24- फैसला कर लिया तो अब मुकरना मत, अगर साथ छोड़ दोगे तो फिर छोड़ो साथ चलना मत।

25- वो दिन कब होगा जब मुझ पर भी सब होगा, मेहनत अपने हाथ में रख मैंने ये फैसलावक़्त पर छोड़ दिया।

26- क़िस्मत बुरी या मैं बुरा ये फैसला ना हो सका, मैं हर किसी का हो गया कोई मेरा ना हो सका।

27- हमारी खामोशी को हमारी हार मत समझना, हम कुछ फैसले खुद पर तो कुछ खुदा पर छोड़ देते हैं।

28- जा रहा हूँ जहाँ ले जा रहा है खुदा क़दम मेरे किसी के कहने पे नहीं बस उसके फैसले पर चलते हैं।

29- कितनी जल्दी फैसला कर लिया जाने का, एक मौका तो देते हमे मनाने का।

30- रब के फैसले पर भला कैसे करूँ शक, सजा दे रहा हैं अगर वो तो कुछ गुनाह रहा होगा मेरा।

Leave a Reply