25 Bad Kismat Shayari (बदक़िस्मती पर शायरी)

25 Bad Kismat Shayari (बदक़िस्मती पर शायरी)
bad kismat Shayari
bad kismat Shayari

1- वो गई भी वहां छोड़ कर मुझे, ज़रुरत थी उसकी सबसे ज्यादा जिस मोड़ पर मुझे।

bad kismat shayari image

2- खुद को कोसने का बहाना मैं खोज लेता हूँ, कभी उस बेवफा को बुरा कहता हूँ कभी खुद की बुरी क़िस्मत को दोष देता हूँ।

bad kismat Shayari in hindi
bad kismat Shayari in hindi

3- मेरे लिए वो कभी पूरा ना होने वाला खूबसूरत ख़्वाब थी, वो क़िस्मत वालों के लिए खुदा ने बनाई थी और मेरी क़िस्मत ही खराब रही।

futi kismat shayari

4- कभी कभी मैं अपने इस हाल की वजह समझ नहीं पाता, मेरी क़िस्मत ज्यादा बुरी थी की वो समझ नहीं आता।

bad kismat quotes in hindi
Bad kismat shayari in hindi

5- मेरी लकीरें भी कभी-कभी मुझसे चीख कर कहती है तू नहीं मैं ही गलत हूँ।

kismat kharab shayari
kismat kharab shayari

6- मुक़द्दर की लिखावट का एक ऐसा भी कायदा हो, देर से किस्मत खुलने वालो का दुगना फायदा हो।

kismat kharab shayari

7- मुकद्दर ही रूठा हुआ है मुझसे मैं तो वहां भी हार जाता हूँ जहाँ सब जीत जाते हैं।

kismat kharab status

8- क़िस्मत से मैं उम्मीद भी तो तब रखूँ जब वो कहीं मेरा साथ दे कर मेरी इज़्ज़त रखे।

kismat naseeb shayari

9- क्यों करते हो मुक़द्दर पर भरोसा वो मौसम की तरह होता है कभी भी बदल सकता है।

bad kismat shayari dp

10- कमी मेरी मोहोब्बत में कोई ना निकलना कोई पूछे की वो क्यों ना मिल सके तो कह देना मेरी क़िस्मत ही खराब थी।

11- मोहोब्बत खेल ही किस्मत का था और हम यहाँ अपनी मोहोब्बत आज़मा रहे थे।

12- इतनी दुआ इतनी मन्नते कर चूका हूँ तेरे लिए की अब समझ नहीं आ रहा की तू खुदा को मंज़ूर नहीं की क़िस्मत को।

13- क़िस्मत की लकीरें इतनी नाराज़ है मुझसे की अक्सर मुझे वही ले जाती है जहाँ मैं जाना नहीं चाहता।

14- क़ीमत हमे वो दिन दिखा रही है की दिन में हमे रोज़ तारे दिखाई देते हैं।

bad luck shayari
bad luck shayari

15- दिल मेरा आज भी अच्छा है बस क़िस्मत ही खराब है मेरी।

16- सीधे रास्तों पर भी टेढ़े मुँह गिर रहा हूँ ये खुदा की मार नहीं क़िस्मत की मार है।

17- मेरा हिस्सा भी मेरे हिस्से में नहीं आता अब इसके सिवाय और क्या ही कहूँ की किस्मत खराब है।

18- मेरे साथ रहने वाले बदल गए, मेरे हक़ में उछले हर सिक्के पलट गए अब ऐ क़िस्मत तुझसे मुझे कोई उम्मीद नहीं।

19- हाल बुरा कर दिया हर उस शख्स ने जो मुझे अच्छा लगता था समझ नहीं आता की मैं बुरा हूँ या मेरी क़िस्मत बुरी है।

kismat ki shayari
Bad kismat shayari in hindi

20- जो मुझे पसंद नहीं करते मुझे आदत भी उसकी पड़ी है, ऐ क़िस्मत तू कितनी बुरी है।

21- मेरी क़िस्मत ने मेरे संग सब गलत किया और मेरे अपनों ने कहा सही हुआ।

22- किस्मत में नहीं था ये सोचकर जिन्दगी भर खुद को तसल्ली देने से अच्छा है कि जिंदगी भर किस्मत से लड़ा जाए।

23- ख़ुशक़िस्मत हो तुम जो हम रो रहे हैं तुम्हारे लिए बदक़िस्मत हो जाओगे जो कोई हमे हँसाने वाला मिल जाएगा।

24- मेरी किस्मत और दिल की कभी नहीं बनी क्यूंकि जो भी दिल में होता है वो मेरी क़िस्मत में कभी नहीं होता।

25- मेरी मेहनत और बुरी क़िस्मत लड़ते बहुत है पर नाजाने कैसे किस्मत हमेशा जीत कर मुझे हरा देती है।

इन्हे भी पढ़े :-

Leave a Reply