Time management in Hindi (Complete Guide 2020)

Time management in Hindi (Complete Guide 2020)
Contents hide
9. 13 Tips For Better Time Management in Hindi

एक इंसान जो वक़्त को अहमियत नहीं देता फिर दुनिया उसे अहमियत नहीं देती। वक़्त समय पल लम्हा कई नाम है इसके पर यह बताता है की वक़्त पर क्या होगा। एक सफल और असफल व्यक्ति के बीच का फ़र्क़ है “Time Management”

दोस्तों आज जो हम आर्टिकल लेकर आएं हैं यह हर व्यक्ति को पढ़ना ज़रूरी है इस लेख के दौरान हम पहले आपको यह बताएंगे समय प्रबंधन (Time management) क्या है?

उसके बाद हम आपको उसके लाभ बताएंगे ताकि आप समझ सकें की Time Management क्यों ज़रूरी है ? फिर हम आपको 13 ऐसे सुझाव (Tips) देंगे जिस से आप अपने वक़्त को सही से इस्तेमाल करना सीख जाएंगे।

चलिए दोस्तों शुरू करते है बिना किसी देरी के इस आर्टिकल को जिसका शीर्षक है Time Management in Hindi

वक़्त प्रबंधन (Time Management) क्या है ?

Time Management (वक़्त प्रबंधन) का अर्थ है अपने पूरे दिन के कार्यों के अनुसार कई भागों में बांटना जिससे हमारे सारे कार्य समयनुसार सही वक़्त पर हो सकें।

समय प्रबंधन आपको काम समय में अत्यधिक कार्य करने में मददगार साबित होगा।
समय प्रबंधन अति आवश्यक है। क्यों आवश्यक है? इसके लाभ क्या हैं आइए अभी जान लेते हैं।

Top 5 Benefits of time management

समय प्रबंधन के लाभ (Benefits of Time management

Completion of work on time is the first benefit of time management

कार्यों की पूर्ति समयनुसार (Completion of works in time)

आप ज़िन्दगी के किसी भी उम्र के मुकाम पर हों कुछ रोज़मर्ऱा के कार्य (ज़िम्मेदारियाँ) सभी के ऊपर होती है फिर चाहे वह एक विद्यालय जाने वाला विद्यार्थी हो या फिर एक ऑफिस जाता युवक,वृद्ध आदि।

इन सभी ज़िम्मेदारियों को एक दिन में पूरा करना असंभव या फिर कह सकते हैं की मुश्किल हो जाता है जब आप इन्हे किसी भी वक़्त शुरू कर देते हैं परन्तु यह आसान हो जाते हैं जब आप इनके लिए एक समय निर्धारित कर देते हैं।

Stress free life is the second benefit of time management

तनाव से राहत (Stress free Life)

रोज़ कार्य को कल पर डाल कर न आज तक कोई तनाव मुक्त रहा है और न रहेगा। तनाव के कई कारणों में से एक होता है ज़िम्मेदारियों का बोझ।

अगर आप कई दिनों से छूटे हुए कार्यों को एक ही दिन में पूरा करने की कोशिश करेंगे तो न आप वह कार्य कर पाएंगे और तनाव बढ़ेगा सो अलग इसीलिए अगर आप तनाव से मुक्त रहना चाहते हैं तो वक़्त प्रबंधन आवश्यक एक महत्वपूर्ण तत्व है।

Why time management is beneficial

अतिरिक्त वक़्त (Extra Time)

आप जब सभी कार्यों के लिए समय निर्धारित कर लेंगे तो आपको हर कार्य से पहले यह नहीं सोचना पड़ेगा की अब मैं क्या करूँ ?

आपने अब अब वक़्त को निर्धारित कर लिया है तो अब आपका कार्य समय पर हो जाएगा और कुछ अतिरिक्त बक्त आपको अपने लिए और अपनों के लिए मिलेगा।

Time management in Hindi

बढ़ोतरी के अवसरों में बढ़ोतरी (Increased growth opportunities)

सभी व्यक्तियों के जीवन में ज़िम्मेदारियाँ है लेकिन उन्हें सही से निभाने पर कुछ इनाम भी ज़रूर मिलता है जैसे एक विद्यार्थी अगर अपनी ज़िम्मेदारियों को बखूबी पूरा करता है तो विद्यार्थी की प्रतिष्ठा और गरिमा अध्यापकों एवं उसके सहपाठियों की नज़रों में बढ़ जाती है।

इस से हो सकता है उसे कक्षा का मॉनिटर (मॉनिटर) बना दे और एक विद्यार्थी के लिए यह एक बहुत ही गैरवपूर्ण उपाधि होती है एवं ज़िम्मेदारियों का सही से पालन किया जाए तो उसके परीक्षा के अंकों में भी अत्यधिक बढ़ोतरी होती है।

इसी प्रकार एक युवक जो कार्यालय (ऑफिस) में कार्य कर रहा है तो वह व्यक्ति भी जब हर कार्य को समय से पूर्ण कर सकेगा तो वह भी पदोन्नति (Promotion) के हक़दार बन सकते हैं यह समय प्रबंधन का एक अत्यधिक मूल्यवान लाभ है।

Clear goal is the greatest benefit of time management

स्पष्ट लक्ष्य (Clear Goal)

अगर आप समय प्रबंधन सही से कर रहे हैं तो आप दिन भर उन कार्यों में ज्यादा व्यस्त रहेंगे जिन्हे पूरा कर के आप अपने भविष्य के लक्ष्यों की प्राप्ति हो। (ज़ाहिर है आप सोशल मीडिया पर चुटकुले पढ़ने के लिए समय प्रबंधन का उपयोग नहीं करेंगे)

इस से लाभ यह होगा की आप अपने लक्ष्य को स्पष्टता से समझ पाएंगे और उस लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु उन विषयों पर कार्य कर पाएंगे जो आपको एक बेहतर लक्ष्य प्राप्ति की और ले जाएगा।

If you manage your time properly you will definitely get better result

बेहतर परिणाम (Better Result)

किसी भी कार्य के बेहतर परिणाम तब नहीं आते जब आप उन पर ध्यान नहीं देते उन्हें वक़्त नहीं देते परन्तु वक़्त क्यों नहीं दे पाते इसका कारण है समय प्रबंधन।

जब आप किसी कार्य को पर अपना समय लगाएंगे तो आपको अच्छे परिणाम ज़रूर मिलेंगे आप उस कार्य क्षेत्र में अवश्य ही प्रगति करेंगे।

13 Tips For Better Time Management in Hindi

13 Time management tips step by step

हमने अभी समय प्रबंधन के कई लाभ जाने। क्या आप जानते थे की वक़्त का हमारे जीवन पर इतना प्रभाव पड़ता है।

अगर आप जानते थे और आप यहाँ इसीलिए आएं है ताकि आपको Time management Tips in Hindi मिल सके तो ठहरिए वक़्त आ गया है की हम आपको वक़्त प्रबंधन को और बेहतर कैसे बनाएं तो चलिए शुरू करते हैं।

Create a daily plan to manage your time effectively

Tip #1- दैनिक योजना बनाएं (Make Your Daily Plan Daily)

हम वक़्त के अनुसार नहीं चल पाते इसका सबसे बड़ा कारण है हम बहुत ज्यादा आगे की सोच लेते हैं जबकि हमे अपने रोज़ के कार्यों को रोज़ पूरा करना चाहिए।

अगर हम रोज़ एक चेकलिस्ट बनाएं जिसमे हम अपने रोज़ के ज़रूरी कार्यों को लिख सकें ताकि हम यह जान सकें की आज हमे कौन कौन से कार्यों को पूरा करना है इससे हम कार्य समय से पहले और बेहतर तरह से कर सकेंगे।

Create a better sequence to save your energy and time

Tip #2- एक जैसे कार्यों को एक साथ रखें (Put similar tasks together)

जब आप यह सूचि बना रहे हैं की मुझे कौन-कौन से कार्य आज करने हैं तो ध्यान रहे की एक जैसे दो कार्यों को एक दूसरे एक आगे पीछे रखें।

उदाहरण के लिए समझे की आज आपको दस ज़रूरी (कार्य सम्बंधित) फ़ोन कॉल्स (Urgent Phone कॉल्स) करनी हैं और दस ज़रूरी मेल्स करनी है तो आप ऐसे कार्यों को एक के बाद एक पूरा कर लें।

इस से लाभ यह होगा की एक जैसे दो कार्यों को करते वक़्त आपके मस्तिष्क को विराम की आवध्यकता नहीं पड़ेगी और आपका वक़्त भी बचेगा।

साथ ही एक लाभ यह भी है की आप एक ही प्रवाह (flow) में दोनों कार्य कर जाएंगे क्यूंकि जब हम दो बिलकुल अलग अलग कार्य करते हैं तो दोनों कार्यों के लिए अलग-अलग सोचना पड़ता है।

इसमें वक़्त भी लगता है इसीलिए ज़रूरी है की एक जैसे दो कार्यों को हम एक के बाद अपनी सूची में लगाए और एक के बाद एक ही पूरा करें।

Time management tips

Tip#3- कार्यों के आगे उनमे लगने वाले समय का आंकलन लिखें (Predict the time of every task and right them)

हर कार्य के आगे उसमे लगने वाला समय ज़रूर लिखें ताकि आप यह समझ सकें की आपको शुरुवात कब करनी है और सभी कार्यों को ख़त्म कब तक करना है।

इस से आप को यह लाभ रहेगा की आप यह पता कर सकेंगे की मेरे पास आखिर में कितना वक़्त होगा जिसे मैं अपने अन्य अन्य कार्यों में इस्तेमाल कर सकता हूँ।


समय प्रबंधन युक्तियाँ

Tip #4- कार्यों को उनमे लगने वाले वक़्त और महत्त्व के अनुसार लगाएं (Arrange tasks according to the time and importance )

जब तक आपको अपना लक्ष्य दिख सके तब तक कार्य करना कभी सफल नहीं हो सकता। उसके परिणाम कभी आपके पक्ष में नहीं आएगा इसीलिए हमे यह जानना बहुत ज्यादा ज़रूरी है की हमे किस कार्य को करना है और वह कार्य हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है।

कार्यों को उन्हें वक़्त और महत्व के अनुसार लगा कर अब आप समझ सकते हैं की आपके लिए कोनसे ऐसे कार्य हैं जिन्हे आज ही पूर्ण करना आवश्यक है और उनके लिए अत्यधिक समय निर्धारित कर आप उन्हें समय पर पूरा कर तनाव से मुक्त रह सकते हैं।

समय प्रबंधन युक्तियाँ

Tip #5- कार्य के लिए निर्धारित समयानुसार अलार्म लगा लें (Set Alarm According to the time)

हर कार्य के लिए जब हम समय निर्धारित कर देंगे तो हम जान जाएंगे की हमे कितनी देर बाद अलार्म लगाना है

समयानुसार Alarm लगाने से हम यह जान पाएंगे की अब अगले कार्य का वक़्त हो गया है और हमे बार-बार घडी की और देखने की ज़रुरत भी नहीं पड़ेगी

ऐसा करने से हमारा थोड़ा ही सही पर वक़्त ज़रूर बचेगा और हमे सफल होने के लिए यह जानलेना चाहिए की वक़्त मुफ्त ज़रूर है पर अनमोल है।

Multitasking kills your time management plan

Tip #6- एक वक़्त पर एक काम (One task at a time)

आज कल हम सभी मशीनों से बहुत प्रभावित है हम स्मार्ट स्मार्ट फ़ोन से बहुत प्रभावित हैं। हमे अच्छा लगता है जब हम एक ही वक़्त पर अपने फ़ोन पर गाने भी सुनते हैं और सोशल मीडिया पर चैटिंग भी कर लेते हैं

परन्तु हम इंसान है मशीन नहीं हम एक वक़्त पर एक ही जगह एक ही कार्य कर सकते हैं हम दो नाव की एक साथ सवारी करेंगे तो निश्चित ही गिर जाएंगे इसीलिए यह आवश्यक है की सभी कार्यों को उनके समयनुसार अलग-अलग ही करें ताकि वह कार्य सुगमता एवं सही से हो सके।

समय प्रबंधन युक्तियाँ

Tip #7- मुश्किल कार्यों को पहले निपटाएं ( Tackle difficult tasks first)

ज़ाहिर है की हमारा दिन भी अन्य लोगों की तरह ही सुबह से शुरू होगा अब अगर हम मुश्किल कार्य पहले कर लें तो इस से हमारा क्या लाभ होगा ?

हम जब एक अच्छी नींद के बाद सुबह उठते है कसरत करते हैं और पौष्टिक आहार का सेवन करते हैं तो हमारे शरीर की ऊर्जा उस वक़्त चरम पर होती है और हम उस ऊर्जा का इस्तेमाल हम अधिक लम्बे वक़्त या फिर ज़रूरी कार्यों में लगाएंगे तो वह कार्य कुशलता से पूर्ण हो जाएंगे

फिर जब आप आधा दिन बिता चूका होगा और आपका शरीर भी थक चूका होगा ऊर्जा काम हो गई होगी तब आप अपने कुछ कार्य जिनमे काम वक़्त और मेहनत लगती है उसे कर सकते हैं।

Time management tips

Tip #8- कार्य के दौरान अपना फ़ोन बंद रखें / खुद से दूर रखें ( Keep your phone off during work)

स्मार्ट फ़ोन जो पहले बस ज़रूरी वार्तालाप के लिए इस्तेमाल होता था आज वह एक पिछले कई वर्षों में वह मनोरंजन का एक साधन बन कर उभरा है।

आप उस पर गाने सुन सकते हैं यूट्यूब पर वीडियो देख सकते हैं सोशल मीडिया Mail चेक करना कार्य के वक़्त दोस्त का अचानक फ़ोन आ जाना आदि

ऐसे हज़ारों कारणों की वजह से आपका ज़रूरी कार्य जो आपको आज ही करना है अब नहीं हो सकेगा क्यूंकि आपने अपने कार्य से ज्यादा अहमियत अपने स्मार्ट फ़ोन को दे दी है

आप इसीलिए ध्यान रखें अपने फ़ोन को कार्य के वक़्त या तो बंद रखें और अगर आप फ़ोन के नज़दीक रहने पर इस्तेमाल किये बिना रह ही नहीं पाते तो फिर अब आपके पास इसे खुद से दूर रखने के सिवाय कोई और विकल्प नहीं है।

विद्यार्थी कोशिश करें की फ़ोन को खुद से दूर ही रखें क्यूंकि उनका मन चंचल होता है एवं वह युवक या वृद्धौं की तरह अपने मन को नियंत्रित करने में इतने सक्षम नहीं होते हैं।

Helpful time management tips step by step

Tip #9- एक कार्य से दूसरे कार्य के बीच थोड़ा आराम करें (Take some rest Between work to work)

एक कार्य के पूरा होते ही दूसरे कार्य की तरफ बढ़ जाना क्या यह सही है? नहीं। क्यूंकि अभी जब आप एक कार्य को पूरा करके हटें हैं तो आपका दूसरा कार्य करने के लिए मन को थोड़ी सी शान्ति चाहिए।

शान्ति के लिए आप हर एक घंटे में 10 मिनट बाद और हर 1-30 घंटे बाद आधे घंटे का आराम करना चाहिए आप इस दौरान ध्यान (Meditation) 1 km चलना (1 km वाक) जिस से आप शारीरिक और मानसिक रूप से फिर से खुद को ताररोताज़ा कर सकते हैं।

Works comes first if you want to use your time effectively

Tip #10- निमंत्रण को नहीं कार्य को प्राथमिकता दें (Prioritize work over invitations)

आप उन अवसरों के अनुसार अपना समय प्रबंधन प्रतिदिन Check list बनाकर कर सकते हैं जो आपको दो दिन पहले एक दिन पहले अचानक आ गए हों।

परन्तु कुछ निमंत्रण ऐसे होते है जो आपको कुछ घंटों, मिनट या फिर कभी-कभी तो कुछ सेकण्ड्स पहले ही मिलते हैं या फिर पता लगते हैं (उदहारण के लिए दोस्तों के साथ पार्टी करना या फिर चाय कॉफ़ी के लिए जाना)

इसके चलते हम आज की ख़ुशी को देखकर कल के तनाव को नज़रअंदाज़ कर देते हैं जो आगे चल कर शत प्रतिशत तनाव से बढ़कर हमे कुछ नहीं दे पाता।

इसीलिए ध्यान रहे की जब भी आप को कोई मिमंत्रण अचानक ही मिलें और वह आपके कार्यों से ज़रूरी न हो तो ऐसे निमंत्रणों को स्वीकार करने से इंकार कर दें।

यह थोड़ा मुश्किल क्यूंकि किसका मन कार्य छोड़ कर पार्टी करने का नहीं करता और फिर अपने ख़ास दोस्तों को मना करना भी कहाँ आसान होगा परन्तु यह आने वाले समय के लिए अति लाभदायक होगा।

Time management tips

Tip #11- वक़्त को ध्यान में रख कर कार्य करें (Work with time in mind)

जो भी वक़्त जिस कार्य के लिए निर्धारित किया है उसे उसी वक़्त अनुसार पूरा करें और अगर वह कार्य अनुमानित समय पर पूरा न हो तो उसे अधूरा न छोड़ें उसे पूरा कर उस वक़्त को ध्यान में रख लें।

इस से लाभ यह होगा की जब आप अगली बार यही कार्य दोबारा अपनी चेकलिस्ट में रखेंगे तो आप इस बार अनुमान सही एवं सटीक लगा पाएंगे और आपको उस कार्य को अगली बार सही वक़्त मिल सकेगा और आपका समय प्रबंधन और शुद्ध ढंग से चल सकेगा।

समय प्रबंधन युक्तियाँ

Tip #12- कार्य के पूरा हो जाने पर उसके आगे done लिख दें- (On completion of the work, write done in front of it)

यह बहुत ही साधारण सा सुझाव है परन्तु अत्यंत ज़रूरी है क्यूंकि कई बार जब हमारे पास बहुत सारे कार्य होते हैं हम भूल जाते हैं की हम इस कार्य को कर चुके है।

इसके चलते हम उस कार्य को लेकर तनाव में रहते हैं की यह कार्य अधूरा ही यह गया या फिर कभी कभी यह भी हो सकता है की हम एक ही कार्य को दो बार कर दें।

इस से हुमारे वक़्त का नुक्सान हों जाएगा और हमे लाभ भी कुछ नहीं मिलेगा इसीलिए इस बात का ज़रूर ध्यान रखें की हम हर कार्य के पूरा होने पर सूची में उसके आगे done लिख दें।

समय प्रबंधन tips

Tip #13- बचे गए कुछ कार्यों को सप्ताहांत में पूरा करें- (Complete remaining work over the weekend)

अपने कार्यों को पूरा करने में पूरी जी-जान से मेहनत करें और अगर फिर भी कार्य किसी कारणवश न हो सके तो उन्हें अपने कार्य दिवसों (Working Days) पर न छोड़ें।

यह आपका तनाव और कार्यभार दोगुना कर देगा। सप्ताह के अंतिम दिन जब आपका अवकाश हो तब कुछ वक़्त निकाल कर ज़रूर उस कार्य को पूर्ण कर लें ताकि आपकी रेल फिर से पटरी पर आ सके और आप अपना समय प्रबंधन अचूक एवं सही ढंग से कर सकें।

आशा करता हूँ समय प्रबंधन के इस पहलु को आप आप समझ गए हैं और जान गए हैं की वक़्त ही सबसे बड़ा राजा है और आप बस इसके एक प्यादे हैं इसके अनुसार चलिए इसे अपने अनुसार चलाने की कोशिश न करें ताकि आप एक अच्छा जीवन जी सकें।

चलिए दोस्तों इस लेख को यहीं पर समाप्त करते हैं आपको वक़्त प्रबंधन (Time management) का कौन सा सुझाव सबसे अच्छा लगा कमेंट कर हमे ज़रूर बताइएगा हमे कमैंट्स का इंतज़ार रहेगा।

  • 38
    Shares

manish mandola

Manish mandola is a co-founder of bookmark status. He is passionate about writing quotes and poems. Manish is also a verified digital marketer (DSIM) by profession. He has expertise in SEO, GOOGLE ADS and Content marketing.

Leave a Reply