29+ Shak Shayari in Hindi

29+ Shak Shayari in Hindi
shak shayari
shak shayari

1- शक वो बीमारी है जनाब जिसका ना कोई वैद है ना ही इलाज है।

pyar me shak shayari

2- वो हुनर नहीं जिसे काबिल करना पड़े, वो मोहोब्बत नहीं जहाँ प्यार साबित करना पड़े।

shak shayari images

3- रिश्तों में एक गुण बेशक नज़र आता है, मुझे प्यार से ज्यादा रिश्तों में शक नज़र आता है।

bewajah shak shayari
bewajah shak shayari

4- मोहोब्बत में मोहोब्बत से ज्यादा भरोसा ज़रूरी होता है।

love shak shayari

5- शक वो दीमक है साहब जो प्यार की लकड़ी को खोखला कर देता है।

Doubt Shayari

shayari on shak

6- दिमाग चाहता था की थोड़ा शक किया जाए दिल ने प्यार में प्यार से कहा थोड़ा भरोसा भी किया करो।

shak status in hindi

7- क़त्ल जो इश्क़ का हुआ तहकीकात हुई तो मालूम हुआ कसूर शक का था।

doubt shayari
doubt shayari

8- सोचते हैं सो बार लोग इश्क़ करने से पहले शक करने से पहले कोई एक बार भी नहीं सोचता।

shak karne wala
Shak Shayari

9- अगर प्यार है तो शक कैसा, अगर नहीं है तो हक कैसा।

Shak Shayari 2 line

10- गलतियों को ठीक किया जा सकता है गलत फ़हमियों को नहीं।

11- सो बार सोच लिया उसने मुझ पर हक़ रखने से पहले, एक बार भी ना सोचा उसने मुझ पर शक करने से पहले।

12- रिश्तों में ग़लतफहमी वैसी ही होती है जैसे दाल में कंकर बस वहां मुँह का स्वाद ख़त्म होता है और यहाँ रिश्तों का स्वाद।

13- गलतफहमियां रिश्तों में एक बीमारी की तरह है रिश्तों की जान ले लेता है।

14- शक सही निकला उसे मुझसे मोहोब्बत कम थी मुझ पर ज्यादा शक था।

shak shayari on character

15- शक वो क़यामत है जनाब जो रिश्तों की बुनियाद को उजाड़ कर रख देता है।

shak shayari 2 line

16- तेरा तब तक कोई ख़ास नहीं होगा, जब तक तेरे शक का इलाज नहीं होगा।

17- जब शक होने लगता है झूठ भी सच लगने लगता है।

18- शक जिस शक्श में घुश जाता है फिर वो शक की दुनिया से कभी बहार नहीं निकल पाता हैं।

19- गैरों पर हक़ रखना और अपनों पर शक करना हमेशा पछतावा देता है।

shak shayari dp

20- शक करना भी जरूरी है ऐतबार से पहले, यार परखना जरूरी है प्यार से पहले।

इन्हे भी पढ़े :-

21- घमंड और गलत फहमियां रिश्तों में नहीं आनी चाहिए क्यूंकि गलत फहमियां आपको रिश्तों से दूर कर देती हैं और फिर घमंड आपको नज़दीक आने नहीं देता।

22- किसी को इतना भी नज़रअंदाज़ मत करना की आपका देखने भर को भी वो शक की निगाह से देखने लगे।

23- शक एक दलदल है जनाब यहाँ इंसान बसता नहीं धंसता चला जाता है।

24- रिश्ता हमारा यूँ ही नहीं टूटा, उसे मेरे शक पर यकीन था मुझे उसके यकीन पर शक था।

25- रिश्ते में सब छूट गया सिर्फ शक रह गया।

26- किसी के कहने पर जो किसी से दूरी बना लोगे, तो कुछ कहने के फिर कभी लायक न रहोगे।

27- मुझे मोहोब्बत करने से जो फुर्सत मिले तुमसे, तब जा कर तो कहीं शक करूँ तुम पर।

28- कभी-कभी अनसुना भी कर देना जो कुछ सुनाई दे हर कही बात सच नहीं होती।

29- यह दुनिया उम्मीद पर कायम है और उम्मीद से बड़ी कोई ग़लतफहमी नहीं।

30- शक की निगाह से मत देखना अपनी मोहोब्बत को कभी, वरना वो दिन दूर नहीं जब वो तुम्हे नज़र अंदाज़ करना शुरू कर देगा।

Leave a Reply