25 Best Paisa Shayari

25 Best Paisa Shayari
Paisa Shayari
Paisa Shayari

1- कुछ को सौ में तो कुछ को हज़ारों में, इंसान और इंसानियत को बिकते देखा है मैंने बाज़ारों में।

पैसे की ताकत शायरी

2- कुछ लोग ख़्वाब खरीदने के लिए नींद बेच देते हैं, कुछ लोग ज़मीन खरीदने के लिए ज़मीर बेच देते हैं।

पैसे पर घमंड शायरी

3- दूर रहने वालों को भी संग कर देता है, जब पैसा बोलता है सबकी बोलती बंद कर देता है।

Paisa Shayari
Paisa Shayari in hindi

4- रंग पैसे ने अपना कुछ ऐसा जमाया है, की इंसान भूल गया पैसे ने उसे नहीं उसने पैसे को बनाया है।

पैसा शायरी इमेज
पैसा शायरी इमेज

5- पैसा पूछता नहीं कर्म इंसान का, पर इंसान पूजता है पैसा जैसे हो धर्म इंसान का।

रुपया पर शायरी

6- ये जो पैसों के लिए किसी को भी छोड़ देते हैं याद रखना दोस्त पैसा किसी का नहीं होता।

दोस्ती और पैसा

7- जिसके पास पैसा होता है उनके सब क़रीब होते है, उनका कोई नहीं होता जो गरीब होते हैं।

paisa shayari 2 line
paisa shayari 2 line

8- पैसा इंसान को ऊपर ले जा सकता है, पर इंसान पैसे को ऊपर नहीं ले जा सकता।

पैसे की ताकत शायरी

9- किसी को सच या झूठ नहीं दिखता, पैसों के आगे किसी को कुछ नहीं दिखता।

रिश्ते और पैसे पर शायरी

10- सभी के तलवे चाटूँ मैं ऐसा थोड़ी हूँ, सभी को पसंद आ जाऊं मैं पैसा थोड़ी हूँ।

11- ये जो आज पैसा है दौलत है, सब माँ-बाप की ही बदौलत है।

12- पैसा होने पर किसी को बेइज़त मत करना याद रखना पैसा किसी का नहीं होता।

13- खुद का घर बनाने के लिए खुद्दार हो गए, अपना घर होते हुए भी किरायदार हो गए।

14- मोहोब्बत ना दिल देख होती है ना लहज़ा देख कर होती है, मोहोब्बत पैसा देख कर होती है।

पैसे के ऊपर शायरी
Paisa Shayari

15- जब बात पैसे की हो तो सब हाँ में हाँ मिलते हैं, लोग इंसान से नहीं उसकी औकात से हाथ मिलाते हैं।

16- कभी सोचा है प्यार कैसा दिखता है, प्यार वो अँधा होता है जिसे बस पैसा दिखता है।

17- मैंने सुना है की पैसा बोलता है, उसे बता देना की मैं बहरा हूँ।

18- किसी के कहने पर नहीं अपने आप कराता है, इलज़ाम इंसान पर है पर पैसा सारे पाप कराता है।

19- समझने में ज़माने लग गए, दोस्त का साथ छूट गया जब कमाने लग गए।

20- वक़्त देखते-देखते ज़िन्दगी बेवक़्त हो गई, पैसे कमाने में ज़िन्दगी खर्च हो गई।

21- मिली थी जिन्दगी किसी के “काम” आने के लिए, पर वक्त बीत रहा है क़ागज के टुकड़े कमाने के लिए।

22- पैसों की क़ीमत जान से ज्यादा है आज के दौर में, पैसों का दर्जा भगवान् से ज्यादा है आज कल।

23- पैसे कमाए ज़िन्दगी को खर्च कर, अब ले जा भी नहीं सकते पैसे ऊपर जेब में रख कर।

24- भाई भाई का ना रहा बेटा बाप का ना रहा, जब से इंसान पैसे के लिए गया वो अपने आप का ना रहा।

25- जरूरतें कम कर लो जितना भी पैसा कमाओगे अधिक होगा, जरूरतें अधिक कर लो जितना भी पैसा कमाओगे कम होगा।

इन्हे भी पढ़े :-

Leave a Reply