49+ New Friendship Shayari 2021 – (दोस्ती पर शायरी)

49+ New Friendship Shayari 2021 – (दोस्ती पर शायरी)
Friendship Shayari
Friendship Shayari

1- वो भी क्या ज़माना था जब दोस्ती का दोस्ताना था, जब गले नहीं दिल मिलते थे ना की एक दूसरे को आज़माना था।

friendship day shayari

2- जब तक ज़िंदा रहेंगे दोस्त, तुझे ही अपनी जान कहेंगे दोस्त।

friendship shayari in hindi
friendship shayari in hindi

3- दोस्ती ऐसा रिश्ता है साहब, जो बस एक रिश्ता नहीं फरिश्ता है साहब।

shayari on frndship

4- दोस्ती वही सच्ची है जिसमे कोई मक़सद ना हो, इबादत हो तो बस दोस्ती की हो पर दोस्तों का कोई मज़हब ना हो।

friendship sayeri

5- दोस्त ज़िन्दगी है हमारी हम माशूका पर नहीं उन्ही पर जान छिड़कते है।

shayri on friendship
Best Friendship Shayari in hindi

6- दोस्ती में दोस्त ही इबादत दोस्त ही खुदा है हमारा, दोस्त गए तो हम भी कहाँ बचेंगे दोस्त से ही तो जिगर जुड़ा है हमारा।

dosti shayari

7- ज़िन्दगी मिली थी पर जीना दोस्तों ने सिखाया, शराब पहले भी देखी थी पर पीना दोस्तों ने सिखाया।

dosti ki shayari
dosti ki shayari

8- आज कल दोस्तों के बीच भी तभी दुआ-सलाम होता है, जब एक दूसरे से उन्हें कोई काम होता है।

shayri in hindi for friends

9- दोस्ती वो सफर है जो अनजानों को भी जान बना देता ही, जो दोस्ती को इबादत और दोस्तों को भगवान् बना देता है।

best friend shayari
best friend shayari

10- जब गिर रहा हो तो हाथ देना ज़रूरी है, ये दोस्ती का रिश्ता है हर हाल में साथ देना ज़रूरी है।

friendship Shayari 2 lines

friend ki shayari
Friendship Shayari in hindi

11- आज भी जब कभी दोस्ती की बात होती है, आँखों में आंसू होते है और दिल में दोस्तों की याद होती है।

friend shayari new

12- नोट इकठ्ठा करने की बजाय दोस्त इकठ्ठा किए है हमने, इलसिए आज पुराने होने के बाद भी बखूबी चल रहे हैं।

friendship special shayari

13- दोस्तों को गिरा कर आगे बढ़े भी तो क्या बढे, दोस्तों के लिए नहीं लड़े तो फिर लड़े भी तो क्या लड़े।

good friend shayari
good friend shayari

14- मेरी हंसी मेरा हर हंसी ख़्वाब हो तुम, मेरे दोस्त मेरी ज़िन्दगी को मिला खिताब हो तुम।

new friendship shayari

15- सारे रिश्ते अपनी जगह दोस्ती की अपनी जगह होती है, दोस्ती ही तो है जो मुस्कुराने की वजह होती है।

16- दोस्ती से अच्छा दुश्मनी रखना है आज कल, क्यूंकि दुश्मनी में भले ही प्यार ना हो पर सच्चाई बहुत है।

17- हाल तो बचपन के दोस्त पूछा करते थे अब तो हाथ मिला कर औकात पूछते हैं।

18- जैसे-जैसे कामियाब होते गए दोस्त, दोस्ती निभाने के नाकाम हो गए दोस्त।

19- हम वक़्त गुज़ारने के लुए दोस्त नहीं रखते, दोस्तों के साथ रहने के लिए वक़्त रखते हैं।

shayri for friends

20- दुआ है ये ज़िन्दगी यूँ ही खुशियां परोसती रहे, ये दुनिया रहे ना रहे मेरी जान तेरी मेरी दोस्ती रहे।

इन्हे भी पढ़े :-

friendship day Shayari

21- वैसा ही भाग्य रहेगा वैसी ही सफलता के सफर की गति रहेगी, वैसा ही जीवन रहेगा जैसी दोस्तों की संगती रहेगी।

22- शादी का महूरत भी साथ और बारात भी साथ में होगी, मेरे दोस्त दुनिया में भी साथ रह रहे है अब तो मइय्यत भी साथ में होगी।

23- दूरियों की ना परवाह किया करो जब दिल चाहे याद किया करो दुश्मन नहीं हैं दोस्त हैं हम आपके. हम याद न कर पाए तो कभी आप भी याद किया करो।

24- दोस्ती का बस यही खूबसूरत फलसफा है दोस्त, दूसरे पल में ही खुश जो एक पल खफा है दोस्त।

shayris on dosti
latest friendship Shayari in hindi

25- दोस्ती के दरिया में वही किनारा पाता है, जो दोस्त और दोस्ती को बचाने के लिए खुद डूब जाता है।

26- दान में दिए हुए पैसे का सूत नहीं मांगते, दोस्त वही अच्छे है जनाब जो दोस्ती का सबूत नहीं मांगते।

27- ऐ दोस्त ज़िंदगी भर मुझसे दोस्ती निभाना, दिल की कोई भी बात हमसे कभी ना छुपाना, साथ चलना मेरे तुम दुःख सुख में, भटक जाऊ में जो कभी तो ही रास्ता दिखाना।

28- आज फिर मुस्कराहट से चेहरा खिल उठा और उनकी याद से आँख नम हो गई, जिन दोस्तों के संग दिन गुजरते थे आज उनसे बातें कितनी कम हो गई।

29- सच्चा दोस्त वो नहीं जो अच्छे वक़्त में की गई हर सभा में आपके साथ बैठे, अच्छा दोस्त वो है जो बुरे वक़्त में आपके साथ खड़ा रहे।

sayri dosti

30- चाँद के इरादों में सितारों से ख़्वाब मिले, हम खुशनसीब है बहुत जो दोस्त के रूप में हमे आप मिले।

Shayari on Best friend

31- हम दोनों ही दोस्ती के रिश्ते से कुछ पा कर निकले, उनका हर मक़सद पूरा हुआ और हम भी धोका खा कर निकले।

32- दोस्त तो मिलते हैं अब भी पर अब उनके दिलों में वो दोस्ती नहीं मिलती।

33- ये जो दोस्ती की दुनिया है साहब यहाँ सब मतलब के यार है।

34- जाने कब बचपन ख़त्म हो गया और हमे भी जवानी में आना पड़ा, जाने कब मासूम दोस्त पीछे रह गए और फिर दोस्तों के भेस में साँपों से पाला पड़ा।

35- दुनिया ये बे अक्ल सी बिलकुल सोचती नहीं, बस कुछ दोस्त खराब है दोस्ती नहीं।

36- जिस पर ज़िन्दगी भर मुस्कुरा सकूं वो किस्सा है तू दोस्त, जिसके जाते ही ज़िन्दगी ख़त्म हो जाए उस ज़िन्दगी का हिस्सा है तू दोस्त।

37- काश इस बात से दुनिया वाखिफ़ होती, दोस्ती है तभी बेवजह है वजह से होती तो साजिश होती।

38- मत कहो हमे होश में रहने को, हम दोस्ती के नशे में है हमे नशे में ही रहने दो।

39- जैसे-तैसे ऐसे-वैसों से नहीं मिलती, खुशियां आप जैसे दोस्तों से मिलती है साहब पैसों से नहीं मिलती।

40- ये दोस्ती समझदारों की बस की बात नहीं जनाब इसे नासमझ ज्यादा बेहतर समझते हैं।

friendship dosti shayari

41- ज़िन्दगी में दोस्त और दोस्तों में ज़िन्दगी ना हो भला तो ये ज़िन्दगी भी कोई ज़िन्दगी है।

42- दोस्ती में दोष दिखने लगे तो समझ लो अब ये दोस्ती वो दोस्ती नहीं रही।

43- सिर्फ यही सोच कर मैंने अपनी आस्तीन नहीं झटकी की ना जाने कितने सांप बेघर हो जाएंगे।

44- ना जाने कैसे बातों-बातों में आज फिर से जुबां पर उस बिछड़े दोस्त की बात आ गई, आज बड़े दिनों बाद फिर एक दफा उसकी याद आ गई।

45- जब से तेरी मेरी यारी क्या टूटी है दोस्त, मुझे तो तेरी यादों से ही याराना हो गया है।

46- ज़रूर याद आती होगी मेरे दोस्तों को भी मेरी ,ये मेरी हिचकियों का यूँ रोज़ आना बेवजह नहीं होगा।

47- स्कूल जब से मिलने का सहारा न रहा, हम उसके और वो दोस्त अब हमारा ना रहा।

48- अगर दोस्तों की यादों का मेला लगेगा तो, सबसे हसीन यादों वाली एल्बम वहां मेरी लगेगी।

49- जब से यारों की यादें याद आती है, हमारा तो यादों से ही याराना हो गया है।

50- जिस में डूब जाने का दिल करे वो दरिया है दोस्ती, मुस्कराहट जहाँ मुफ्त में मिलती हो वो जरिया है दोस्ती।

Leave a Reply