30 Best Mata Rani Shayari in Hindi 2021

30 Best Mata Rani Shayari in Hindi 2021
Mata Rani Shayar
Mata Rani Shayari

1-देखों, सिंह पर सवार होकर आई है मेरी माँ, मन के सारे मुराद पूरी करने आई है मेरी माँ, सारे जग में कोई नहीं माँ से बड़ा कृपालु सारे दुःख और कष्ट को हरने आई है मेरी माँ।

Mata Rani Shayari in hindi

2- माँ दुर्गा के दर पर आया है जो, कोई न कोई वर पाया है वो।

Navratri Mata Shayari
Navratri Mata Shayari

3- माँ दुर्गा के चरणों में जब शीश झुकाते हैं, सारी मुसीबतों से लड़ने की ताकत पाते हैं।

jai mata di shayari
Best Mata Rani Shayari in hindi

4- माँ दुर्गा की चरणों में जब जाता हूँ, सच कहूँ तो बड़ा सुकून पाता हूँ, सारे मुसीबतों से लड़ जाता हूँ, जब कोई विकट दुःख आता है तो मैं माँ के चरणों में आ जाता हूँ।

mata rani ki shayari wallpaper

5- माँ का दरबार सजा बड़ा निराला हैं, नवरात्रि पर्व पर देवी होती हर बाला हैं।

6- माता के द्वार जो आते हैं, बिना माँगे सारी खुशियाँ पाते हैं।

7- माँ भक्तों के हृदय को जान लेती हैं, भक्तों के मन को पहचान लेती हैं, माँ इस दुनिया के कण-कण में है माँ सबके कर्मों का फल देती हैं।

8- माँ के दरबार जायेंगे, माँ के चरणों में शीश झुकायेंगे, माँ को अपना दुःख सुनायेंगे, माँ का आशीर्वाद पायेंग। – प्रेम से बोलो जय माता दी.

Navratri Mata Shayari

9- जब माँ का बुलावा आता हैं, भक्त दौड़ा-दौड़ा जाता हैं, जीवन में सुख-शन्ति-समृद्धि को पाता है, माँ के चरणों में उसकों बड़ा सुकून आता हैं।

mata rani ki shayari
Mata Rani Shayari

10- माँ के दरबार जब भी जाना, थोड़ा पूण्य भी कमाना, गरीबों को दान देकर माँ का आशीर्वाद पाना।

11- माँ तेरे दरबार में आया हूँ, मेरे गुनाहों को माफ़ कर देना, इस तेरे भक्त से बहुत भूल हुई है ईमानदारी के रास्तें पर चलू ऐसे मेरे दिल को साफ़ कर देना। – हैप्पी नवरात्रि

12- चाहते हो तुम्हारे जीवन में दुःख न आयें, तो माता के दरबार में जरूर जायें।

13- माँ ऐसी सेवा ले लो इस गुलाम से, कि लोग मुझे जानने लगे तेरे नाम से।

14- जीवन में जब संकट आता हैं, अपने साथ नहीं हो तो जी घबराता हैं माँ की भक्ति में दुःख का पता नहीं चलता कुछ दिन में सुख का फूल खिल जाता हैं।

mata ji ki shayari

15- माता के दरबार में जब जाते हैं, सारे अरमान पूरे हो जाते हैं।

इन posts को भी जरूर पढ़े :-

16- नवरात्रि का त्यौहार जब भी आता हैं, माँ की भक्ति में दिल डूब जाता हैं। – शुभ नवरात्रि

17- माँ दुर्गा मेरे हृदय से अंधकार मिटा दो, थक चूका हूँ जिन्दगी से अब अपनी चरणों में जगह दो।

18- माँ दुर्गा की “अर्चना” का पर्व हैं, नौ रूपों की भक्ति का पर्व हैं, माँ का आशीर्वाद पाने का पर्व हैं, हृदय में भक्ति जगाने का पर्व हैं।

19- माँ के दर पर जाना है, माँ की भक्ति में डूब जाना हैं, माँ के चरणों में पूरा जीवन बीते ऐसा आशीर्वाद माँ से पाना हैं। – Happy Navratri

Jai Mata di Shayari in hindi

mata rani bhakti shayari

20- नवरात्रि में हम माँ की भक्ति के गीत गुनगुनाते हैं, अपने सारे दुखो को भूलकर असीम आनन्द पाते हैं।

21- माँ के दरबार में गाते हैं, दुःख के बाद सुख आता हैं सबको बताते हैं। – जय माता दी

22- जब तक हृदय में “मैं” था तब तक माँ की भक्ति नजर नही आई, जब हृदय में “माँ” समाई मेरी दुनिया में खुशिया ही खुशिया छाई.

23- भक्तों पर माँ हमेशा कृपा करती हैं, उनके सारे दुःख और कष्ट को हरती हैं।

24- जब इंसान का दुनिया से जी भर जाता हैं, तब उसको माँ का दरबार ही नजर आता हैं।

माता रानी पर शायरी
Mata Rani Shayari in hindi

25- माँ के चरणों में शीश झुकाता हूँ, माता के दरबार में उनका गुण गाता हूँ।

26- परिवार का साथ, सिर पर माँ दुर्गा का हाथ, पूरे हो गये सारे अरमान।

27- माँ दुर्गा की शक्ति पर हमें है विश्वास, इस नवरात्रि आपके सारे कष्टों का होगा नाश। – नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं

28- माँ दुर्गा के आशीर्वाद से आपका दुःखो से कभी न हो सामना आपको नवरात्रि की हार्दिक शुभकामना।

29- दुष्टों का करती हैं संघार, माँ होकर शेर पर सवार, बच नहीं पाता है कोई दुष्ट जब माँ दुर्गा करती है वार।

30- माँ की भक्ति में शान्ति का सुरूर मिलता हैं, जो माँ के दरबार आता है उसे कुछ न कुछ जरूर मिलता है।

  • 7
    Shares

Leave a Reply