Ignore Shayri in Hindi

Ignore Shayri in Hindi
Ignore Shayri
Ignore Shayri

1- हमने उनसे मोहोब्बत का और उन्होंने हमसे नफरत का आगाज़ कर दिया, हमने उन्हें प्यार से देखा और उन्होंने हमे नज़रअंदाज़ कर दिया।

Ignore Shayri in Hindi

2- ऐसा नहीं है की मैं अब उन्हें और नहीं चाहता, अब उनका हमे यूँ अनदेखा करना हम से और देखा नहीं जाता।

ignore shayari

3- अब यूँ ना जा मेरे प्यार को अनदेखा कर, मेरी जुबां झूठी लग रही है तो कम से कम एक दफा तो इन सच्ची आँखों में देखा कर।

ignore shayari in hindi 2 lines

4- जब से मेरी चाहत मेरा उत्तवालापन उसे bore करने लगी है, तब से मेरी चाहत मुझे चाहकर भी ignore करने लगी है।

ignore shayari in hindi font

5- ऐसा नहीं था हमने देखा नहीं पहले भी उन्हें हमे यूँ धोका देते, पर दिल ने उसे अनदेखा कर कहा चल छोड़ एक और मौका देदे।

ignore status in hindi 2 line

6- ज़िन्दगी जीने का कुछ यूँ अंदाज़ कीजिए, जिनकी नज़र में खटकते हैं आप ऐसे लोगों को नज़रअंदाज़ कीजिए।

ignore status in hindi images

7- हमे ज़ख्म देकर उसने हम से हमारा हाल पूछा, दिल ने दाद दी दिल से कहा वाह जनाब क्या सवाल पूछा।

ignore shayari status in hindi

8- जो आपकी खूबियां छोड़ हर दफा आपकी कमियों पर गौर करें, बेहतर यही होगा की आप उन्हें Ignore करें।

9- जब ज़िन्दगी में मुसीबतों के मुकाम आ जाते हैं, मेरे अपनों को उस वक़्त मुझसे ज्यादा जरूररी काम आ जाते हैं।

ignore shayari for friend

10- देखा है सबने मुझे गम में चूर होते हुए, बस ये मदद न मांग ले इस वजह से कोई मेरा हाल नहीं पूछता।

ignore shayri in hindi status

11- ना जाने ऐसा क्या गुन्हा किया है मैंने की मेरे अपनों को जब भी मैं ज़ख्म दिखाता हूँ तो वो अनदेखा कर देते हैं और जब भी अपने गम सुनाऊँ तो वो अनसुना कर देते हैं।

12- आज कर लो मुझे नज़रअंदाज़ आगे से आता देख कर, जब मेरा वक़्त आएगा तब आवाज़ भी दोगे तो मूढ़ कर नहीं देखूँगा।

13- ऐसा नहीं की उसने मुझे आज देखा नहीं बस नफरत की वजह से उसने मेरी और देखा नहीं।

14- उनकी गलतियां नज़रअंदाज़ कर मैं उन्हें मौके देता रहा, वो मुझे बेवकूफ समझ प्यार के नाम पर धोके देता रहा।

इग्नोर शायरी
Ignore Shayri in hindi

15- ये जिस्म की मोहब्बतें है साहब यहाँ सच्चे दिल को नज़रअंदाज़ कर झूठे चेहरे को प्यार मिलता है।

16- हमे गम दे कर वो हम से नाराज़ हो गए, हम भी अपने गम भुला कर उनसे माफ़ी मांगने लगे।

17- हमेशा हमारा चेहरा देखते हो कभी हमारे दिल पर भी गौर कर लो, कभी तो मोहोब्बत की सोचो कभी तो हवस को Ignore कर लो।

18- किसी को इतना भी अनदेखा मत करो की उसे तुम्हारी झलक भर से नफरत हो जाए।

19- नहीं देखा जाता मुझसे जब तुम मुझे Ignore करते हो, हमारे साथ सो कर जब अंगड़ाई तुम कहीं और भरते हो।

इग्नोर शायरी

20- ये कह कर वो मेरे messages को ignore करता है, की मेरा यूँ बेफिज़ूल इश्क़ की बातें करना उसे अब Bore करता है।

इन्हे भी पढ़े :-

21- मेरे जानने वालों ने मेरे बुरे वक़्त में मुझे ऐसे Ignore किया जैसे वो मुझे जानते तक नहीं।

22- चाहत की शुरुवात हुई थी जब हम दोनों एक दूसरे को देखते रह गए थे और चाहत ख़त्म हो गई उस दिन जब दोनों ने एक दूसरे को देख कर भी अनदेखा कर दिया।

23- जब आज तुमने मुझे अनदेखा कर दिया तब जा कर मुझे समझ आया की वो जो आज तक तुमने मुझे प्यार दिखाया था वो बस।

24- वो जो मुझे देखना भी नहीं चाहते है वो मुझे अचानक चाहते हैं जब उन्हें काम आते हैं।

ignore sad shayari in hindi

25- तेरा मुझे नज़रअंदाज़ करने से कुछ नहीं बदला, देख बादल भी वही है ये रात भी वही हैं और चाँद भी वही है।

ignore sad shayari in hindi

26- नहीं चाहते तो बताया भी करो, यूँ Ignore कर हमे ऐसे सताया मत करो।

27- पहले जो मेरी एक झलक को मरते थे आज मुझे देख कर मरने को हो जाते हैं।

28- एक कड़वा सच जान लेना ज़िन्दगी का लोग तुमसे काम होने पर ही तुम्हे गले लगाते हैं वरना तुम्हारे चेहरे के सामने आने के बावजूद भी मुँह तक नहीं लगाते।

29- अगर दुनिया तक अपनी आवाज़ पहुंचाना चाहते हो तो इन दुनिया वालों की बातों को ज़रा कम सुना करो।

ignore sad shayari in hindi
Ignore Shayri

30- फिर बस तन्हाई ही तुम्हारे दर्द की दवा हो जाएगी, मैं जो Ignore करने पर आया तो सारा टशन हवा हो जाएगी।

31- जिनका हमे देखे बिना दिन नहीं होता था, आज हमे रास्ते में अनदेखा कर रहे हैं सच में यकीन नहीं होता।

32- ये जो अकड़ है तुम्हारी हमे अनदेखा करने की, ये तब कहाँ चली जाती है जब तुम्हे मेरी ज़रुरत पड़ती है।

33- एक बात समझ लेना अगर इस दुनिया में जीना है तो, तुम किसी के लिए तब तक ही ज़रूरी हो जब तक उन्हें तुम्हारी ज़रुरत है।

34- अनजान तो तब भी थे अनजान तो आज भी हैं, बस फ़र्क़ इतना है तब तुम मुझे जानती नहीं थी और आज जान बूझकर अनजान बनती हो।

35- पता है क्या बदला है हमारे बीच पहले मुझे देखे बिना तुम्हारी सुबह नहीं होती थी, और अब कई रातें बीत जाती हैं पर तुम मुझे देखने नहीं आती।

इन्हे भी पढ़े :-

manish mandola

Manish mandola is a co-founder of bookmark status. He is passionate about writing quotes and poems. Manish is also a verified digital marketer (DSIM) by profession. He has expertise in SEO, GOOGLE ADS and Content marketing.

Leave a Reply