Happy Navratri Shayari in Hindi

Happy Navratri Shayari in Hindi

1- दुर्गा परम सनातनी जग की सृजनहार, आदि भवानी महा देवी श्रृष्टि का आधार. शुभ नवरात्रि

2- माँ के चरणों में रखों आस्था, अँधेरे में भी दिखेगा रास्ता। – Happy Navratri

3- चाँद को चाँदनी, बसंत को बहार फूलों को खुशबू, अपनों का प्यार, मुबारक हो आपको नवरात्रि का त्यौहार सदा खुश रहे आप और आपका परिवार। – हैप्पी नवरात्रि

4- समाज का असली चेहरा दिखायेगी, वेदना से वन्दना बन जायेगी, हवस फेंक देती है सड़कों में निगलकर, वो कन्या फिर ‘नवरात्र’ में पूजी जायेगी। – नवरात्री शायरी

5- दिव्य है आँखों का नूर, करती है संकटों को दूर, माँ की छवि है निराली, नवरात्रि में आई है खुशहाली। – Happy Navratri

6- माँ दुर्गा के चरणों में जिसने सिर को झुकाया हैं, वहीं तो आसमान की बुलंदी को छू पाया हैं। – Happy Navratri

7- भक्तो का दुःख ये लेती हैं, उनको अपार सुख देती हैं, नैनो में जो माँ दुर्गा को बसाते, बिन माँगे ही सब कुछ पाते। – नवरात्रि की शुभकामनाएँ

8- माँ तू हमारी तेरे लाल हम, चरणी लगा लो माँ करो दूर गम. जय माता दी – हैप्पी नवरात्रि

Chaitra Navratri Shayari in Hindi

9- खुशियाँ और आपका जन्म-जन्म का साथ हो, जीवन में कोई मुसीबत आये भी तो आपके सिर पर माँ दुर्गा का हाथ हो। – नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं

10- कुछ ना चढ़ाओं नवरात्रि में माँ की थाली में, पर याद रहे “माँ” शब्द ना चढ़े किसी भी गाली में।

11- माँ की कृपा है निराली, सबके झोली में भर दे खुशहाली। – हैप्पी नवरात्रि

12- श्रद्धा भाव कभी कम ना करना, दुःख में हँसना गम ना करना, घट-घट की माँ जाननहारी, हर लेंगी सारी पीड़ा तुम्हारी।

13- जीवन के हर कदम पर फूल खिले, इस नवरात्रि आपको हर खुशियां मिले। – शुभ नवरात्रि

14- खुशियों में जीता हूँ और कोई गम नहीं है, माँ की भक्ति की दौलत किसी दौलत से कम नहीं है। – शुभ नवरात्रि

15- माँ की महिमा का गुणगान करों, नवरात्रि में तुम माँ का ध्यान करों, सारे कष्टों से मिलेगी मुक्ति अबकी बार कुछ दिन उपवास करों। – हैप्पी नवरात्री

इन को भी पढ़े:-

16- घरों माँ दुर्गा का वास हो, दुखों और संकटों का नाश हो, मेरा माँ पर विश्वास हो हर जगह सुख-शांति का वास हो।

17- जब भक्त माँ के दर्शन पाएँ, अपने सोये भाग्य जाएँ, जो अपने मन को भक्ति में लगाये, जीवन के वह सारे सुख पाए।

New Navratri Shayari in Hindi

18- नवरात्रि में हम उपवास रखते हैं, माँ के चरणों में विश्वास रखते हैं, माँ कर देंगी पूरी सारी मनोकामना माँ से भक्त ऐसी आस रखते हैं।

19- क्या है पापी क्या है घमंडी माँ के दर पर सभी शीश झुकाते, मिलता है चैन तेरे दर पे मैया, झोली भरके सभी है जाते। – जय हो माता रानी

20- सजा हे दरबार, एक ज्योति जगमगाई है, सुना हे नवरात्रि का त्योहार आया हैं, वो देखो मंदिर में मेरी माता मुस्करायी है। – जय माँ दुर्गा..

21- जिसने सच्चे मन से जय माता बोल दिया, समझो माता रानी ने उसके लिए कुबेर का खजाना खोल दिया। – शुभ नवरात्री

22- माता रानी का हम पर युही आशीर्वाद बना रहे, सभी परिवारों में खुशियां युही खुशियां खिलती रहे। – शुभ नवरात्री

23- बहुत दूर अभी जाना है पर चिंता नही चिंतन का दामन थामा है क्योंकि माँ ने मेरी मुझे अपना माना है।

24- जिंदगी में उन लोगो को सभी सुख मिलने लग जाते हैं, जब वह माता की शरण में आने लगते हैं। – जाती माता रानी

25- मेरे दिल मे आज क्या है माँ कहो तो मैं सुना दूँ माँ तुझे देखता रहूं मैं तेरी सेवा में जीवन बिता दूं आते जाते जो मिलता है अपना लगता है माँ के ख़यालों में रहते हैं जबसे जीवन स्वर्ग से लगता है।

इन को भी पढ़े:-

  • 6
    Shares

Leave a Reply