Domain in Hindi (डोमेन के बारे में पूरी जानकारी)

Domain in Hindi (डोमेन के बारे में पूरी जानकारी)

एक विज्ञापन जो T.v पर आज कल बड़े ज़ोरो-शोरों से चल रहा है (अपना Business ऑनलाइन ले जाइए GOdaddy के साथ) यह विज्ञापन आपने भी ज़रूर देखा होगा।

इस विज्ञापन के अंत में जब वह कहते है की पाइए .Com Domain केवल 99 रूपए में। तब अआपने भी ज़रूर सोचा होगा की आखिर यह Domain होता क्या है ? और शायद इसीलिए ही आप यहाँ तक आ पहुंचे हैं। खैर आप जैसे भी आएं हों आपके तहे दिल से स्वागत है।

अब आप यहाँ तक आ ही गए हैं तो परेशान ना हों मैं आपके हर सवाल का जवाब मैं आज देने वाला हूँ तो देर किस बात की ? चलिए शुरू करते हैं।

Domain क्या है (What is Domain in Hindi)

अगर बातों को ज्यादा ना घुमाऊं तो ये जो हर वेबसाइट के नाम के अंत में ये .com, .in, .Co.in लगता है यही डोमेन है। इसे ही डोमेन कहते हैं। क्या आप समझ पाए ? अगर जवाब ना है तो आओ एक उदहारण (Example) से समझ लेते हैं।

उदाहरण (Example)– एक बड़ी कंपनी जैसे इनफ़ोसिस इसकी वेबसाइट का नाम है Infosys.com है तो इस कंपनी का नाम इसकी वेबसाइट के आगे लिखा हुआ है पर जो अंत में .Com आ रहा है वह असल में डोमेन है।

Domain Name क्या होता है? (What is Domain Name?)

मुझे लगता है की आप अब ये तो समझ गए की Domain क्या है? पर ज़रा रुकिए बस इतना जान लेना काफी नहीं है। अभी मैं आपको बताने वाला हूँ की Domain Name क्या होता है (What is Domain name?) तो आइए ज़रा इसे भी जान लें।

अब देखिए मुझे अपना और आपका दोनों का ही वक़्त प्यारा है तो अगर मैं फिर से सीधा-सीधा कहूँ तो हर Doamin के अंत में जहाँ .Com, .in लगा रहता है उस से पहले आने वाले शब्दों को ही Domain कहते हैं।

इसे मैं थोड़ा अलग तरह से समझाऊँ तो जैसे हर इंसान का अपना नाम (Name) और अपना उपनाम (Surname) है उसी तरह से हम कह सकते हैं की आपका Domain Name उसका नाम है और उसके बाद जो .Com, .In उसका उपनाम है।

अगर आप अब भी नहीं समझे तो एक बार इस उदाहरण को देख लीजिए आप शत प्रतिशत समझ जाएंगे।

आपने MDH मसलों का नाम ज़रूर सुना होगा उनकी भी एक Website है जिसका नाम है mdhspices.com इस वेबसाइट में जो mdhspices है वह है Domain Name और जो उसके बाद .com है वह है उनका डोमेन।

Types of Domains (डोमेन के विभिन्न प्रकार)

हर चीज़ की इस दुनिया में कई किस्में हैं तो फिर ये डोमेन कहाँ पीछे रहेगा। दोस्तों Domain के प्रकार (Types of Domain) मुख्या तौर से दो प्रकार के होते हैं।
1- TLD (Top Level Domain)
2- CcTLD (Country Code Top Level Domain)

Top level domains

TLD (Top Level Domain)

TLD का पूर्ण नाम टॉप लेवल डोमेन होता है। यह डोमेन प्रकार सबसे अच्छा एवं प्रख्यात डोमेन प्रकार है। इस डोमेन प्रकार के प्रख्यात होने का मुख्या कारण है यह आपकी वेबसाइट को सम्पूर्ण जगत में गूगल पर रैंक (Rank) करवाने में सहायक है।

यदि आपका बिज़नेस बड़ा है और सम्पूर्ण जगत में फैला हुआ है तो आप इस डोमेन को खरीद सकते है।

साथ ही यदि आप अपने बिज़नेस को प्रारम्भ करने जा रहे हैं और आप बहार देश के लोगों तक पहुंचना चाहते हैं तब भी आप इस डोमेन प्रकार का इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके लिए बेहतर रहेगा।

Top-Level Domain Examples

1- Com (Commercial)
2- net (Network)
3- info (Information)
4- org (Organization)
5- gov (Goverment)
6- edu (Education)
7- biz (Business)
8- live (Live)
9- name (Name)

ccTLD ( Country Code Top Level Domain)

यह डोमेन प्रकार किसी एक देश में मुख्या होता है। जैसे भारत के लिए .in है उसी तरह से विभिन्न विभिन्न देशों के अपने अलग कंट्री कोड टॉप लेवल डोमेन होते हैं।

यह डोमेन मुख्य रूप से अधिक उपयोगी तब साबित होते हैं जब आपका व्यापार केवल आपके देश तक ही फैला हो या फिर आप केवल अपने ही देश में व्यापार करना चाहते हैं।

Moz की रिसर्च द्वारा पता लगा है की CcTLD डोमेन अपने देश में बेहतर परिणाम ला सकें हैं

तो यदि आप अपनी राष्ट्र भाषा में लिखना जानते हैं या फिर केवल अपने ही देश में अपनी वेबसाइट को गूगल पर बेहतर रैंक करवाना चाहते हैं तो आप इन डोमेन का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ccTLD Domain Examples

1- in (India)- http://www.sample.in
2- fr (France)- http://www.sample.fr
3- .au (Australia) http://www.sample.au
4 .co.uk (United Kingdom) http://www.sample.co.uk
5- .cn (China) http://www.sample.cn
6- .np (Nepal) http://www.sample.np
7- .af (Afganistan) http://www.sample.af

Subdomain क्या होता है (What is subdomain)

आप ज़रूर परेशान हो रहे होंगे की अभी तो जाना ही था की डोमेन क्या होता है पर अब ये भी जानना पड़ेगा की आखिर ये Subdomain क्या होता है? पर परेशानी किस बात की जब हम है तो फिर क्या गम है।

Subdomain भी एक डोमेन ही होता है परन्तु यह आपके मुख्या डोमेन जिसे Root Domain कहते हैं उसका ही एक भाग है।

उदाहरण के लिए अगर आपके domain का नाम है aaj.com है और आपने उसके भीतर दो subdomain बनाए जिनका नाम है kal.com और parso.com तो इसमें aaj.com आपका Root Domain कहलाएगा और kal.com और parso.com आपके Subdomain कहलाएंगे।

और आसान शब्दों में कहूँ तो subdomain कुछ नहीं बस आपके डोमेन का ही एक हिसस होता है। और आसान शब्दों में कहूँ तो अगर आपका डोमेन पिता है तो subdomain इसका ही एक पुत्र है। अगर डोमेन एक शहर है तो सबडोमेन उसके अंदर एक छोटा सा घर है।

इसे कैसे बनाते हैं ये मैं आपको जल्द ही बताऊंगा लेकिन आज नहीं क्यूंकि आप हद से ज्यादा comfuse हो जाएंगे। लेकिन बस मैं इतना बता दूँ की अगर आपके डोमेन का नाम abc.com है और आप ने अपने सबडोमेन का नाम xyz रखा है तो आपके सबडोमेन का नाम हो जाएगा xya.abc.com

आशा करता हूँ मैं आपको समझाने में कामियाब रहा होगा।

क्या हम भी अपने मनचाहे नाम से Domain खरीद सकते है (Can we also buy a domain in the desired name )

आपका एक और सीधा सवाल और मेरा फिर एक और सीधा जवाब। जी हाँ आप अपने मनचाहे नाम से अपने domain खरीद सकते हैं। पर कहाँ से और कैसे खरीदना है यह मैं आपको थोड़ी देर बाद बताऊंगा क्यूंकि कुछ खरीदने से पहले उस चीज़ के बारे में जान लेना सही होता है।

What is Domain name service provider in Hindi

Domain name service Provider वह संस्था होती है जहाँ से आप अपना domain name खरीद सकते हैं। आपको अपना डोमेन खरीदने के लिए आपको अपने मनपसंद नाम से पहले इन Domain Service Provider की website पर जा कर रजिस्टर करना होगा। आसान शब्दों में कहूँ तो खरीदना होगा। फिर वह डोमेन आपके नाम पर हो जाएगा।

10 Domain Provider in Hindi

मुझे पता है मैंने ऊपर कहा था की हम अपना मनपसंद नाम से डोमेन खरीद सकते हैं पर कैसे वो मैं आपको अब बताने वाला हूँ। जिस तरह हर सामान की एक दुकान होती है उसी तरह डोमेन की भी दुकान होती है और इसी दुकान को हम Domain Provider कहते है।

यह बिलकुल बाकी ऑनलाइन चीज़ों को खरीदने के सामान है इसीलिए घबराइए मत।

अब ,मैं आपको बताने जा रहा हूँ 10 Domain service provider websites के नाम जिनसे आप अपना डोमेन खरीद सकते हैं तो चलिए अब जान लेते हैं इन websites का नाम

  • Domain.Com
  • GOdaddy.Com
  • Hostgator.com
  • Namecheap.com
  • Domains.google
  • Bluehost.com
  • Name.com
  • ionos.com
  • Register.com
  • znetive.com

आशा करता हूँ मैं आपके काम आ पाया होगा। कैसा लगा हमारा यह आर्टिकल हमे कमेंट बॉक्स में लिख कर ज़रूर बताइएगा। ब्लॉगिंग के बारे में और जानने के लिए यहाँ पर क्लिक करें।

nitish sundriyal

Nitish sundriyal is a co-founder of bookmark status. He is passionate about writing quotes and Stories. Nitish is also a verified digital marketer (DSIM) by profession. He has expertise in SEO, Social Media Marketing, and Content marketing.

Leave a Reply