Dard Shayari in Hindi

Dard Shayari in Hindi

1- खुद पर भरोसा करने का हुनर सीख लो सहारे कितने भी सच्चे हो एक दिन साथ छोड़ ही जाते हैं।

2- दुनिया बड़ी जालिम है हर बात छिपानी पड़ती है दिल में दर्द होता है फिर भी होंठो पर हंसी लानी पड़ती है।

3- नसीहत अच्छी देती है दुनिया, अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

4- कदर करनी है तो जीते जी करो अर्थी उठाते वक़्त तो नफरत करने वाले भी रो पड़ते हैं।

5- गुलशन की बहारों पे सर-ए-शाम लिखा है, फिर उस ने किताबों पे मेरा नाम लिखा है, ये दर्द इसी तरह मेरी दुनिया में रहेगा, कुछ सोच के उस ने मेरा अंजाम लिखा है।

dard shayari in hindi 2 line

6- बना के ताजमहल एक दोलतमन्द आशिक ने गरीबो की मोहब्बत का तमाशा कर दिया।

7- खामोशियाँ कर देतीं बयान तो अलग बात है, कुछ दर्द हैं जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

8- आँखों में उमड़ आता है बादल बन कर, दर्द एहसास को बंजर नहीं रहने देता।

9- कभी कभी लंगड़े घोड़े पे दाव लगाना ज्यादा सही होता है‪ क्योंकी दर्द जब जूनून बन जाए तब मंजिल बहुत नज़दीक लगने लगती है।

10- मुस्कान भरे चेहरे के पीछे कितनी तड़प कितनी आग है एक शायर कहीं छिपा हुआ था चेहरा दिखाया आज है।

11- ए खुदा तू ही मेरा इन्साफ़ कर दे अगर दुरिया ही देनी थी तो मिलाया ही क्यो।

12- रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे, एक दर्द जो दिल में है मरता ही नहीं है।

13- दर्द मोहब्बत का ऐ दोस्त बहुत खूब होगा, न चुभेगा,न दिखेगा बस महसूस होगा।

14- छोड़ दिया यारो किस्मत की लकीरों पर यकीन करना जब लोग बदल सकते हैं तो किस्मत क्या चीज़ है।

15- तुमने मुझे छोड़ कर किसी और का हाथ तो थाम लिया है मगर ये याद रखना हर शक्स मोहब्बत नहीं करता।

इनको भी पढ़े :-

16- सब सो गए अपना दर्द अपनों को सुना के, कोई होता मेरा तो मुझे भी नींद आ जाती।

17- झूठी हँसी से जख्म और बढ़ता गया, इससे बेहतर था खुलकर रो लिए होते।

18- बिछड़ने वाले तेरे लिए एक मशवरा है कभी हमारा ख्याल आए तो अपना ख्याल रखना।

very sad shayari in hindi

19- जो नजर से गुजर जाया करते हैं; वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं; कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते, बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

20- जो नजर से गुजर जाया करते हैं; वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं; कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते, बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

21- आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये, तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये, कई बार पुकारा इस दिल ने तुम्हें, और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये।

22- मेरा ख़याल ज़ेहन से मिटा भी न सकोगे, एक बार जो तुम मेरे गम से मिलोगे, तो सारी उम्र मुस्करा न सकोगे।

23- अब तो बहुत कम है दर्द मेरे दिल का सुना है किसी से पूछा था उसने हाल मेरा।

24- दिल के टूटने से नही होती है आवाज़, आंसू के बहने का नही होता है अंदाज़, गम का कभी भी हो सकता है आगाज़, और दर्द के होने का तो बस होता है एहसास।

25- ज़रा सी ज़िंदगी है, अरमान बहुत हैं, हमदर्द नहीं कोई, इंसान बहुत हैं, दिल के दर्द सुनाएं तो किसको, जो दिल के करीब है, वो अनजान बहुत है।

26- वो रात दर्द और सितम की रात होगी, जिस रात रुखसत उनकी बारात होगी, उठ जाता हूँ मैं ये सोचकर नींद से अक्सर, कि एक गैर की बाहों में मेरी सारी कायनात होगी।

27- वो करीब ही न आये तो इज़हार क्या करते, खुद बने निशाना तो शिकार क्या करते, मर गए पर खुली रखी आँखें, इससे ज्यादा किसी का इंतजार क्या करते।

28- वो तो अपना दर्द रो-रो कर सुनाते रहे, हमारी तन्हाइयों से भी आँख चुराते रहे, हमें ही मिल गया खिताब-ए-बेवफा क्योंकि, हम हर दर्द मुस्कुरा कर छुपाते रहे।

29- ज़ख्म जब मेरे सीने के भर जाएंगे, आंसू भी मोती बन के बिखर जाएंगे, ये मत पूछना किसने दर्द दिया, वरना कुछ अपनों के सर झुक जाएंगे।

30- अपने चेहरे से जो ज़ाहिर है छुपाएँ कैसे तेरी मर्ज़ी के मुताबिक़ नज़र आएँ कैसे। – वसीम बरेलवी

इनको भी पढ़े :-

nitish sundriyal

Nitish sundriyal is a co-founder of bookmark status. He is passionate about writing quotes and Stories. Nitish is also a verified digital marketer (DSIM) by profession. He has expertise in SEO, Social Media Marketing, and Content marketing.

Leave a Reply