दमदार शायरी इन हिंदी

You are currently viewing दमदार शायरी इन हिंदी
दमदार शायरी इन हिंदी
दमदार शायरी इन हिंदी

कुछ लोग मुझे मेरी औकात दिखाना चाहते थे, जब वक्त बदला तो असल में उन्होंने मेरी नहीं अपनी औकात देखना चाहा।

दमदार शायरी इन हिंदी 2 line

मुझसे उलझने की भूल गलती से भी मत करना क्योंकि मैं भूल सुधारने के लायक भी नहीं छोड़ता।

दमदार शायरी इन हिंदी लव

जब मेरा वक्त आएगा तो जो आज मुझे नजरअंदाज कर रहा है वो शक्श उस समय बहुत पछतायेगा।

दमदार शायरी इन हिंदी motivational

उसे खुद से भी ज्यादा महोब्बत करते थे, पर अफ़सोस उसे मुझसे नहीं पैसो से प्यार था।

दमदार शायरी इन हिंदी attitude

औकात तो इतनी रखते हैं की तुझ जैसे 36 को अपने घर पर हम नौकर बना कर रख सके।

उस बेवफा को ये ना पता था की जिस शक्श को वो छोड़कर जा रही है वही शक्श एक दिन बादशाह बनेगा।

जिसकी चौढ़ में जो तू इतना उछल रहा हैना रोज मेरे घर पर आकर सलाम करता हैं मुझे।

महोब्बत तो उससे बेहिसाब करते थे लेकिन जब परिवार और उसे चुनने का वक्त आया तो बेझिझक मैंने अपना परिवार चुना।

अकड़ थोड़ी कम दिखाया कर क्योंकि मैं अकड़ और टांग दोनों चीज तोड़ने में बहुत माहिर हूँ।

दमदार शायरी इन हिंदी sad

अगर कभी लड़ने का मन हो तो बता दियो, बस उससे पहले अपने घर वालो के लिए जीवन बीमा जरूर करवा लियो।

जब औकात ना हो किसी चीज को खरीदने की तो हाथ फैला दिया कर मेरे आगे दान समझ कर दे दूंगा।

अब दुशमनो की जरुरत कहा मुझे उसके लिए तो मेरे गद्दार दोस्त ही काफी है।

जो भी शक्श मेरे रास्ते में आया है, उस शक्श को मैंने हमेशा शमसान ही पहुंचाया है।

हम दोस्ती करते हैं सिर्फ उससे जो अपनी अकड़ और औकात दोनों को ना दिखता हो।

दमदार शायरी इन हिंदी life

अगर दोस्ती नहीं कर सकते तो दुश्मनी करने की भी भूल मत करना, मेरे अंदर के गुस्से को बहार लाने की कोशिश मत करना।

हमारी शख्सियत का अंदाज़ा तुम ये जान के लगा लो हम कभी उनके नही होते जो हर किसी के हो जाए।

हम तो उस Message की तरह है जिसे डिलीट करने का मन भी नहीं करता लेकिन दिल डरता है की कोई उसको पढ़ ना ले।

जिंदगी जीने का अंदाज ही अलग है इसी कारण तो दुनिया आवारा कहती है।

बचपन में दोस्तो की खातिर टीचर से मार खा लेते थे हम लेकिन अब दोस्तो की खातिर मरने को भी तैयार है हम।

कौन कहता है यह इश्क़ एक बार होता है मेरे सनम जैसा ख़ूबसूरत जिसका सनम होगा उसे इश्क़ एक बार नहीं हजारों बार होगा।

इन्हे भी पढ़े :-

ज़रा पास आकर कह दो कि हम पागल नहीं हैं सब लोग कहते हैं मैं तेरे लिए पागल हो गया हूँ।

फांसी के फंदे से डर नहीं लगता साहब, डर उनसे लगता है जो इश्क़ के फंदे पर लटकते है।

किसने कह दिया दिल का कम धड़कना होता है ये मेरा दिल तो हमेशा उसके ख़्यालों में ही रहता है।

शेर खामोश हो जाने से, जंगल कभी कुत्तों का नहीं होता।

मेरी ज़िंदगी की जितनी भी सांसे बची है वो तेरे साथ लेना चाहता हूं ग़म मिले या ख़ुशी ज़िंदगी में तेरे साथ ही हंसना तेरे साथ ही रोना चाहता हूं।

आँधी का वजूद मिट जाता है अक्सर तूफानो से टकराकर तुझमे और मुझमे बस यही फर्क है।

प्यार करता हु इसलिए फ़िक्र करता हूँ, नफरत करुगा तो जिक्र भी नही करुगा।

Please तो हमारी डिक्शनरी में भी नहीं है हम तो धक्के से काम करवाते है जो करदे तो ठीक नहीं तो नहीं तो ICU में एड्मिशन दिलवाते है।

घमंड तोड़ने में जरा भी वक्त नहीं लगेगा इसलिए अपना घमंड अपने पास बचा कर रख।

बेटा फर्क सिर्फ इतना है जहाँ तेरे संपर्क है वहाँ हमारे संबंध है।

Leave a Reply