टॉप लव शायरी

You are currently viewing टॉप लव शायरी
टॉप लव शायरी
टॉप लव शायरी

तुझसे प्यार हो गया हैं सनम, तुझ बिन अब एक पल भी नहीं रह पाएंगे हम, बस एक बार हमें हां बोल दो हमें कसम खुदा की मरते दम तक तुम्हारा साथ निभाएंगे हम।

टॉप लव शायरी 2 Line

अपनी हर दुआओं में हम सिर्फ नाम तेरा लेते हैं, कभी तुझे किसी चीज की कमी नहीं हो इस बात का ध्यान हम सबसे ज्यादा रखते है।

टॉप लव शायरी 2022

महोब्बत हो गयी हैं आपसे हमें, अब बस कोई और शक्श नहीं चाहिए सिर्फ आपसे ही निगाह करना हैं हमें।

टॉप लव शायरी Attitude

तेरी आँखों में कुछ ऐसा जादू है की जो भी शक्श इन्हे देखता हैं वो कम्भख्त इनमे डूबता ही चला जाता है।

टॉप शायरी

इस जन्म तक ही नहीं बल्कि अगले 7 जन्मो तक सिर्फ तेरा ही साथ चाहता हूँ, इस बात का ऐलान आज में सबके सामने करना चाहता हूँ।

तुझसे महोब्बत क्या की मैंने, दिन और रात का होश ही नहीं रह पाता मुझे।

हर रात सोने को बेताब रहता हूँ मैं क्योंकि अपने सपनो में तेरे ख्वाब जो देखता हूँ मैं।

अगर तुझ जैसा हमसफ़र हर शक्श के पास होगा तो सच में उसकी जिंदगी का हर एक पल बहुत खास होगा।

किसी भी हद तक गुजर जायेंगे हम तेरे लिए, तू कहे तो जान भी दे देंगे हम तेरे लिए।

टॉप लव शायरी sad

मेरे जीने की वजह हो तुम, मेरे ईमान मेरा गुरुर हो तुम।

उस वक़्त से मैंने ख्वाहिशे रखना छोड़ दिया हैं जिस वक़्त से तू मेरी जिंदगी में आयी है।

तेरी मुस्कुराहट ही प्यारी हैं की मेरा उसी को देखकर दिन बन जाता है।

तुझे अपना बनाना चाहता हूँ सनम, तेरी खातिर किसी भी हद तक गुजर जाना चाहता हूँ मैं सनम।

जबसे तू मेरी जिंदगी में आयी हैं कसम खुदा की तू ढेरो खुशियां लेकर आयी है।

गजब लव शायरी

तेरे इश्क़ का नशा मुझ पर कुछ ऐसा चढ़ा की मेरी जिंदगी का सुख चैन सब लूट गया।

सुबह में देखूं शाम में देखूं तेरा प्यारा सा चेहरा मैं चाँद में देखूं तेरे हुस्न की क्या तारीफ करूं मैं तेरा चेहरा मैं सारे जहां में देखूँ।

मेरे दिल को अगर तेरा एहसास नही होता, तू दूर रहकर भी यूं मेरे पास नही होता, इस दिल में तेरी चाहत ऐसे बसा ली है, एक लम्हा भी तुझ बिन खास नही होता।

मोहब्बत में नशा तेरे इंतजार का है इस दिल में नशा तेरे दीदार का है ना होश में ला मुझे मदहोश ही रहने दे, मेरे इन नैनो में नशा तेरे प्यार का है।

मेरा बस चले तो तेरी अदाएं खरीद लूं अपने जीने के वास्ते तेरी वफाएं खरीद लूं कर सके जो हर वक्त दीदार तेरा सब कुछ लुटाके वो निगाहें खरीद लूं।

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह, कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे, मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह, कि होश भी आने की इजाज़त मांगे।

एक नाम, एक जिक्र, एक तुम और एक तुम्हारी फिक्र बस यही है छोटी सी जिन्दगी मेरी।

तेरे अहसास की खुशबू रग रग में समाई है, अब तू ही बता क्या इसकी भी कोई दवाई है।

बसा ले नज़र में सूरत तुम्हारी, दिन रात इसी पर हम मरते रहें, खुदा करे जब तक चले ये साँसे हमारी, हम बस तुमसे ही प्यार करते रहें

हुस्न-ए-बेनजीर के तलबगार हुए बैठे हैं, उनकी एक झलक को बेकरार हुए बैठे हैं, उनके नाजुक हाथों से सजा पाने को, कितनी सदियों से गुनाहगार हुए बैठे हैं।

किताब-ए-दिल में भी रखा तो ताज़गी ना गई, तेरे ख्याल का जलवा गुलाब जैसा है।

इन्हे भी पढ़े :-

Leave a Reply